कैराना शामली

कानपुर की घटना के बाद शामली प्रशासन अलर्ट एडीएम एसएसपी ने धर्म गुरुओं के साथ की बैठक सोशल मीडिया पर भडकाऊ पोस्ट डालने वालों पर होगी कार्यवाही डीएम जसजीत कौर

कैराना। पैगंबर मुहम्मद साहब की शान में गुस्ताखी करने के विरोध के बाद कानपुर में हुई घटना पर पुलिस प्रशासन हुआ अलर्ट एडीएम एसएसपी ने कोतवाली कैराना में पहुंचकर दोनों समुदाय के धर्मगुरुओं के साथ एक बैठक का आयोजन किया। इस दौरान उन्होंने धर्म गुरुओं से क्षेत्र मे शांति व्यवस्था कायम रखने में सहयोग की अपील की। इसके अलावा जुमे की नमाज को शांति पूर्वक संपन्न कराने के लिए डीएम एसएसपी ने पुलिस फोर्स को ब्रीफ कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
बताते चले कि कई दिन पूर्व भाजपा प्रवक्ता नुपूर शर्मा ने पैगंबर हजरत मुहम्मद सल्लल्लाहू अलेही वसल्लम की शान में गलत बयानबाजी कर गुस्ताखी की थी। जिसके बाद भारतीय जनता पार्टी ने उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया था। इसी को लेकर कानपुर में दोनों समुदायों के बीच पत्थरबाजी हो गई थी। जिसको लेकर पुलिस प्रशासन अलर्ट हो गया है ताकि कानपुर जैसी घटना दोबारा न हो सके ओर कोई भी असामाजिक तत्व दोनों समुदाय के बीच जहर घोलकर माहौल खराब ना कर दें जिसके चलते पुलिस प्रशासन ने अपनी कमर कस ली है। वही बृहस्पतिवार को डीएम जसजीत कौर एसएसपी सुकीर्ति माधव ने कैराना कोतवाली में पहुंच कर दोनों समुदाय के धर्म गुरुओं के साथ बैठक आयोजित की इस दौरान एसएसपी ने कहा कि जनपद शामली व कैराना का माहौल कभी खराब नहीं हुआ हम चाहते हैं कि यहां के लोग आपस में मिलजुल कर इसी तरह रहें उन्होंने धर्म गुरुओं से शांति व्यवस्था बनाए रखने में सहयोग करने की अपील की। इसके अलावा उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर कोई भी गलत पोस्ट ना डालें अगर कोई माहौल खराब करने का प्रयास करेगा तो उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएंगी। डीएम ने कहा कि सोशल मीडिया पर डाली गई भड़काऊ पोस्ट की अफवाह पर ध्यान न दें, किसी भी धार्मिक वाली पोस्ट को शेयर ना करें, अगर ऐसा कोई करता हैं, तो उसकी सूचना पुलिस प्रशासन को तुरंत दें अगर कोई समस्या हैं तो पुलिस प्रशासन समस्या सुनने को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि अगर कोई गलत घटना होती हैं तो नौजवानों का नुकसान होता हैं वही उन्होंने सभी से शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की हैं। जामा मस्जिद के शाही इमाम मौलाना ताहिर ने कहा कि इस्लाम धर्म में यह बताया गया कि किसी भी धर्म के बारे में गलत बातें ना कहीं जाएं किसी की भी धार्मिक भावनाओं को ठेस ना पहुंचाई जाएं। उन्होंने कहा कि शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद पैगंबर मुहम्मद साहब की शान में गुस्ताखी करने के विरोध में एक ज्ञापन दिया जायेगा। जिस पर डीएम एसएसपी ने जामा मस्जिद पर ही मजिस्ट्रेट की तैनाती करने तथा उन्हें ज्ञापन सौंपने की बात कहीं। मौलाना ताहिर ने कहा कि वे भी शांतिपूर्वक अपनी बात को सरकार तक पहुंचाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि गलत अफवाह से बचा जाएं सोशल मीडिया पर किसी भी धर्म के लोगों के बारे में कोई गलत बयानबाजी या गलत पोस्ट ना डालें। बाद में डीएम एसएसपी ने चौक बाजार में पहुंचकर पुलिस व पीएसी के जवानों के साथ ब्रीफिंग की तथा जुमे की नमाज शांति पूर्वक संपन्न कराने के लिए अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.